Difference Between Master Card Visa Card and Rupay Card in Hindi

अभी के समय में हमारे पास एक प्लास्टिक का कार्ड होता है जिसके द्वारा हम ATM मशीन से रूपये  निकलते है जिसे हम ATM कार्ड कहते है जो बैंक के द्वारा दिए जाता है।
कभी आपने धयान से देखा होगा तो पाया होगा की ये कार्ड basically तिन तरह का होता हैं जिसको हम Rupay card,Visa card एंड  Master card के नाम से जानते हैं क्या कभी आपने सोचा हैं की ये तीनो कार्ड से रुपए ही एटीएम से निकलते हैं लेकिन ये अलग-अलग क्यों होता हैं ।सभी को क्यों नही Visa card और Master Card बैंक द्वारा दिए जाते हैं।

Visa debit card
Difference b/w Master card Visa card and Rupay card

हेल्लो दोस्तों कैसे हैं आपलोग मैं उमीद करता हूँ की आपलोग अच्छे होंगे दोस्तों मेरा नाम राहुल कुमार विश्वकर्मा है और आज आपलोग को Difference Between Master Card Visa Card and Rupay Card in Hindi में जानेंगे।

Difference Between Master Card Visa Card and Rupay Card in Hindi


मैं आपको बताऊँगा  की  ये अलग-अलग तरह के कार्ड क्यों होते हैं, इसके पहले जानते हैं की कार्ड  की जरूरत  ही क्यों  हैं।
चलिए सुरु से समझते हैं दोस्ते पहले की बात करे तो   हमलोग के पास बैंक अकाउंट होता थे जब भी हमें बैंक में रूपये जमा करने या निकलने  होते थे तो हमें बैंक में जाने पड़ते थे  और बैंक को रूपये देने पड़ते थे और जरूरी के अनुसार हम बैंक से रूपये लेते थे।


 धिरे-धिरे बैंक के बारे में लोगो ने जानने लगे जिससे बैंक अकाउंट बढ़ने लगा और बैंक में ज्यादा भीड़ होने लगी  जिससे  लोगो को  रूपये लिकालने और जमा करने में परेशानी होने लगी।
दोस्तों दिकत यहाँ पे ये हो गई की हमारे ही रूपये निकलने के लिए लम्बी  लाइन में खड़ा होना पड़ता  था तो यहाँ पे एक कॉन्सेप्ट डिजाईन किया गया ATM कार्ड का जिसे  देश के भिभिन्न जगहो  पे भिभिन बैंको के द्वारा  अपने-अपने एटीएम मशीन लगा दी गई।

धिरे-धिरे कार्ड बनने सुरु हो गई और  बैंक ने कार्ड इस्सू  करना सुरु कर दिया और आप फ्री हो गये रूपये लिकालने के लिए।   अब आपको बैंक जाने की जरूरत नही हैं ,एटीएम में जाइये एटीएम कार्ड स्वाइप करे और जो रूपये आपको बैंक से मिल रहे थे ओ आपको एटीएम से मिलने लगें।


दोस्तों यहाँ पे भी ये दिकत आ गई की यदि हमें शॉपपिंग करना है या कुछ और सामान खरीदना  हो तो पहले एटीएम में जाना पड़ेगा  ,एटीएम से कैश निकलना पड़ेगा  और वह कैश लेकर किसी दुकानदार के पास जाना पड़ेगा और उस  कैश को  देकर सामान खरीदना पडता था तो भाई ये बहुत लम्बी प्रोसेस हो रही थी
यहाँ से   एक और कांसेप्ट आया debit card का और ये कांसेप्ट लेकर आया दो कंपनी:- 

↪Visa Inc. Company
↪Master Card Company


ये दोनों कंपनी एक दुसरे के competitor हैं। 
ये दोनों कंपनी ने सोचा की किसी को कहीं से कहीं  पैसा भेजना हैं या कुछ शॉपपिंग करना हैं तो दोनों कंपनी ने पेमेंट नेटवर्क का सुरुवात किया।   ये  नेटवर्क इस  प्रकार बनाया की आप इंडिया या किसी भी देश से लेंन  देंन कर सकते हों चाहे ओ कोई भी बैंक हों।


ये दोने कंपनी ने  , देश में जितना भी बैंक हैं सब से टाएफ कर लिया ,सब के सर्वर में एक्स्सस ले ली उसके बाद इन्होने सभी   बैंक  से कहाँ की  हम आपको एक कार्ड नंबर  देंगे और बैंक से कहाँ की आप कार्ड प्रिंट कर दीजिये और  उसपे हमारा लोगो लगा लीजिये ये कार्ड आप अकाउंट होल्डर को इस्सू कर दीजिये इससे एक पेमेंट नेटवर्क बन जायेगां और सब का डाटा बेस  एक ही netwok में सेव हो जायेगा।  जिससे पेमेंट,शोपिंग या हर चीज  करने में आसानी होगी। क्युकी  हर जगह  Visa card और  master card कंपनी वालो ने पहुंच बना कर राखी हैं। हार  जगह  ये  कार्ड एक्सेप्टेड हैं।

Master Card Visa Card and Rupay Card कैसे कम करता हैं:- 

आब जानते हैं की ये कार्ड कैसे कम करता हैं जब आप कहीं पे भी कार्ड को स्वेप करते है ,कार्ड स्वेप करते हि ऑटोमेटिकली ये दोनों  कंपनी (आप पे निर्भर करता हैं की आप कौन सी कार्ड उपयोग करते हैं  VISA INC या master card के पास request पहुचेगी  ओ देख लेंगे की आपके अकाउंट में कितना बैलेंस हैं उसके बाद ओ बैंक के सर्वर से पैसा को debit कर लेंगे  और  अपने लेवल पे लॉक बनाकर रख लेंगे मतलब एक तरह से रिकॉर्ड बनाकर ,उसके बाद जहाँ आप पैसा भेज रहे थे जिस भी अकाउंट में वह ये पैसा को  भेज देंगे ये सब इतनी जल्दी होता है की हमें पता भी नही चलता हैं।
दोस्तों फाइनली  VISA INC या  master card ये एक तरह का  पेमेंट नेटवर्क हैं।



ये दोनों कंपनी हमारे और आपके बैंक अकाउंट के बिच में   मीडिएटर हैं लेकिन दिकत ये हैं की ये दोनों कंपनी बाहर के हैं us के हैं, जो हर transaction पे फी लेते हैं मतलब आप किसी को पैसा ट्रान्सफर करते  हो तो एक या दो परसेंट फी लेते हैं पूरी प्रोसेस को करने के लिए।   पहले पेमेंट  प्रोसेस का वेरीफाई देश के बाहर होता था ।  


दोस्तों इंडिया की बात करे तो ज्यादा तर लोग  इंडिया to इंडिया पैसा भेजते हैं  तो हर  transaction को  वेरीफाई करने के लिए बाहर  के कंपनी जैसे  VISA INC या  master card  के पास भेजना पड़े जो पहले काफी   transaction  फी लेते थे।   इसी बात को सोच कर  NPCI(National Payment Corporation Of India) जो हमारे देश के सभी बैंक को मॉनिटर करता है इन्होने देखा  की इतनी  सारी transaction हमारे देश में हो रही है तो क्यों दुसरे कंपनी को फी देना हैं।


यही बातो को देखते हुवे  NPCI ने लॉन्च किया  Rupay card  जिसका हर प्रोसेस इंडिया में ही होता हैं और transaction फीस  भी कम देना पड़ता है मतलब हमारा पैसा हमारा ही देश में रहता हैं इसलिए इंडियन गवर्मेंट ने Rupay card को प्रमोट करना सुरु कर दिया । ये  VISA INC या  master card के  competitor बन गये  जिससे   VISA INC या  master card कंपनी  वाले हिल गयें और  इनलोगों ने टीवी पर ऐड चलाना सुरु कर दिया अपने ग्राहक को बढ़ाने के लिए   ,आपने भी देखा होगा।

 VISA INC या  master card हर जगह उपयोग होता है मतलब देश या देश के बाहर लेकिन Rupay card हमारे देश में ही उपयोग होगा कुछ   Rupay card देश के बाहर भी उपयोग किये जाते हैं जिसे हम platinum  Rupay card कहते है जो हर किसी को नही मिलता हैं।

VISA INC या  master card लेने के लिए हमें फी देना पड़ता हैं लेकिन  Rupay card हमें बैंक फ्री में देता हैं,
तो दोस्तों ये VISA INC,master card और Rupay card कुछ नही हैं जब तक बैंक अकाउंट में पैसे नही हैं।अंततः Visa card, Master card और Rupay card ये सभी एक पेमेंट नेटवर्क हैं। Visa card और  Master card एक विदेसी कंपनी हैं जबकि Rupay Card हमारे देश की कंपनी हैं। 
दोस्तों आप कमेन्ट कर के बताये की आपलोग को ये पोस्ट कैसा लगा जय हिन्द जय भारत।
Previous
Next Post »

6 comments

Click here for comments